10 Simple Tips that Boosts Stamina in Your Body

30 की उम्र पर होते ही स्त्री पुरषो में शारीरिक कमजोरी होना आम बात है इस युग में खान-पान में मिलने वाली अशुद्धता से शरीर जल्दी क्षीण होने लगता है इसी कमजोरी की वजह से लोग अपने दैनिक कार्यो को करने में भी कठिनाई महसूस करते है.

 

 

 

अधिक से अधिक काम कर पाने के लिए, हर व्यक्ति चाहता है अपना स्टै़मिना बढ़ाना। लेकिन क्या आप जानते हैं स्टैमिना बढ़ाने के लिए आपको कुछ ऐसे प्रयास करने की जरूरत है जिससे आप अपने शरीर की क्षमता से अधिक अतिरिक्त काम भी आराम से कर सकें। इसके लिए आपको स्वस्थ डाइट लेना भी जरूरी होता है। स्टैमिना बढ़ाने के लिए आपको सब्जियों की मात्रा बढ़ाने के साथ-साथ पौषिटक आहार भी लेना चाहिए।

 

स्टैमिना बढ़ाने वाले कुछ आसान टिप्स:- 

1. चुकंदर का जूस:- स्टैमिना बढ़ाने के लिए चुकंदर का जूस बहुत अच्छा रहता है। इसके पीने से आपकी मांसपेशियां भी मजबूत होती है।यदि आप प्रतिदिन व्यायाम करते हैं और हार्ड वर्क करते हैं तो चुकंदर के जूस से बढि़या कोई जूस नहीं।
how to boost stamina

 

 

 

2. अपने पसंदीदा खेल खेलें:- सभी प्रकार के आउटडोर खेल थकान को दूर करने और आपके स्‍टैमिना के स्तर को बढ़ावा देने के लिए सबसे अच्छे हैं, क्योंकि यह एरोबिक व्यायाम का एक रूप हैं। फुटबॉल, बास्केटबॉल और अन्य सभी बहुत तेज़ी से दौड़ने वाले खेल आपके दिल को मजबूत बनाने में मदद करेंगे ताकि आपके शरीर के सभी भागों तक और अधिक ऑक्सीजन पहुँचे।

 

 

 

 

3.  Vitamin C;- स्टैमिना बढ़ाने के लिए आपको स्पेशल डाइट की खासा जरूरत है। आप अपनी डाइट में विटामिन सी को शामिल कर सकते हैं। विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में लेने के लिए आप अंगूर, अनार, सेब जैसे फलों का सेवन कर सकते हैं जिनमें विटामिन सी की मात्रा भरपूर हो।

4. अनाज:- अनाज खाने से भी स्टैमिना बढ़ता है। गेहूं की रोटी, गेहूं से बनी चीजों को अपने भोजन में शामिल करके आप अपना स्टैमिना बढ़ा सकते हैं। ओट मील स्टैमिना बढ़ाने के लिए अच्छा रहता है। natural male stamina

5. अपने सोडियम स्तर को संभालें:-  अगर आप गर्म मौसम में दिन भर कठोर व्यायाम करते हैं, तो आपको अधिक पसीना आएगा, इसके परिणामस्वरूप, आपका शरीर पसीने के दौरान बहुत सारा नमक खो देगा। आपके शरीर में नमक की कमी से इलेक्‍ट्रोलाइट असंतुलन पैदा हो सकता है, जिसकी वजह से आपके स्‍टैमिना में तेजी से गिरावट हो सकती है और आप हलका एवं चक्‍कर आना जैसा महसूस करेंगे। इस तरह की समस्याओं से बचने के लिए, सुनिश्चित करें कि आपको अपने शरीर में पर्याप्त सोडियम मिल रहा है, लेकिन आप उच्च रक्तचाप के खतरे की जांच कर लें।

best way to increase stamina

 

6. अंडे को प्रोटीन, कैल्शियम व ओमेगा-3 फैटी एसिड का अच्छा स्रोत माना जाता है। यह सभी पोषक तत्व हमारे शरीर के लिए जरूरी होते हैं। प्रोटीन से हमारी मांसपेशियां मजबूत होती हैं, ओमेगा 3 फैटी एसिड से शरीर में अच्छेश कोलेस्ट्राल यानि एचडीएल का निर्माण होता है इसके अलावा कैल्शियम से दांत व हड्डियां मजबूत होती हैं।अंडे खाने से आपके शरीर को जरूरी अमीनो एसिड मिलता है जिससे शरीर का स्टैमिना बढ़ता है।अंडे में विटामिन ए पाया जाता है जो बालों को मजबूत बनाने के साथ आंखों की रोशनी बढ़ाता है। अंडे में मिलने वाला फोलिक एसिड व विटामिन बी 12 स्तन कैंसर से बचाता है। विटामिन बी 12 दिमागी प्रक्रिया में मदद करता है और स्मरण शक्ति बढ़ाता है।अंडे की जर्दी में विटामिन डी होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाता है साथ ही शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। गर्भवती महिलाओं को अपने खाने में अंडे को जरूर शामिल करना चाहिए यह भ्रूण के विकसित में मदद करता है। 

2 रातो मे Blackheads से कैसे छुटकारा पायेǃ जानिये।

 

7.  पोटैशियम से भरपूर आहार:- आहार जो पोटैशियम से भरपूर हैं वे हैं: केला, संतरा, एप्रिकॉट, अवोकेडो, स्ट्राबेरी, आलू, टमाटर, खीरा, गोभी, फूल गोभी, शिमला मिर्च, बैंगन, ब्रसेल स्प्रोउट, अजवायन, पालक,ब्रोकोली, कुकरमत्ता, हल्दी, ट्यूना  मछली। best food for running stamina
8. फाइबर के फायदे- फाइबर ऐसे कार्बोहाइड्रेट हैं, जो पेड़ों के पत्ते, टहनियों और जड़ों का निर्माण करते हैं। फाइबर का सेवन करने के बाद आपको अधिक समय तक भूख नहीं लगती और इनका सेवन बहुत अधिक मात्रा में नहीं किया जा सकता। फाइबर मुख्यत: दो तरीके के होते हैं: अघुलनशील और घुलनशील और यह दो तरीके से काम करते हैं।फाइबर जई, सेम,जौ और कई फलों में पाये जाते हैं। यह पानी में मिलकर हमारे पाचन तंत्र में जेल जैसी वस्तु बनाते हैं। इससे शक्कपर का अवशोषण धीमी गति से होने लगता है। ऐसे फाइबर का लगातार सेवन करने से शरीर में कालेस्ट्राल का स्त‍र कम होता है ।

 

9. कार्बोहाइड्रेट:-  एक ग्राम कार्बोहाइड्रेट में 4 कैलोरी होती है और इतनी ही कैलोरी एक ग्राम घुलनशील फाइबर में भी होती है। फाइबर में मौजूद कैलोरीज़ वज़न कम करने में भी सहायक हैं। फाइबर को अधिक चबाना होता है और यह पोषक तत्वों को अवशोषित करने की क्रिया को धीमी करता है, जिससे आपको महसूस होता है कि आपका पेट भरा है। कुछ फाइबर आंत में कोलेसाइटोकिनिन नामक भूख बढ़ाने वाले हार्मोन भी बनाते हैं।
10  प्रोटीन:- महिलाओं के लिए प्रोटीन शेक के फायदे:- प्रोटीन शेक न केवल पुरुषों के लिए जरूरी है बल्कि इसकी आवश्‍यकता महिलाओं को भी होती है। प्रोटीन महिलाओं के शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है क्‍योंकि इससे मांसपेशियों का निर्माण होता है। इसके अलावा हमारे शरीर का लगभग 75 प्रतिशत हिस्‍सा केवल प्रोटीन से ही बनता है। लड़कियों को भी प्रोटीन की आवश्‍यकता होती है, लेकिन कम मात्रा में। प्रोटीन की जरूरत की पूर्ति के लिए प्रोटीन शेक आहार की तुलना में जल्‍दी असर दिखाता है। डिब्‍बाबंद प्रोटीन शेक की बजाय घर में बने ताजे फलों का जूस ज्‍यादा फायदेमंद होता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *